असफलता से सफलता तक




हम यह समझते है कि हमारे सफल न होने का कारण लोग, समस्याएँ या परिस्थितियां है| लेकिन दरअसल ऐसा कहकर हम स्वंय को धोखा दे रहे होते है|

असफल कौन नहीं होता, समस्याएँ किनके सामने नहीं आती, आदर्श जीवन में कौन पैदा होता है ??

हर किसी के जीवन में समस्याएँ आती है|

“कभी कभी जिंदगी आपके सर को ईंट से भी मारती है| अपने विश्वास को मत खोइए ” – स्टीव जॉब्स

हर व्यक्ति असफल होता है, समस्याएँ हर व्यक्ति के जीवन में होती है| लेकिन फर्क सिर्फ इतना है कि कुछ लोग सकारात्मक नजरिये की वजह से परिस्थितियों के आगे हार नहीं मानते वे परिस्थितियों और लोगों द्वारा फेंके गई ईटों से एक मजबूत नीवं बना लेते है और प्रयास जारी रखते है|

“असफलता का मतलब यह नहीं है कि आप असफल है बल्कि इसका मतलब सिर्फ इतना है कि आप अभी तक सफल नहीं हुए है|”

यह केवल नजरिये का ही फर्क है कि कुछ लोग असफलताओं को उनके सपनों तक पहुँचने की पहली सीढ़ी मानते है और कुछ लोग असफलताओं को उनके सपने टूटने का कारण मानते है|

जीवन में कठिनाइयाँ हमे बर्बाद करने नहीं आती है, बल्कि यह हमारी छुपी हुई सामर्थ्य और शक्तियों को बाहर निकलने में हमारी मदद करती है| कठिनाइयों को यह जान लेने दो की आप उससे भी ज्यादा कठिन हो। – अब्दुल कलाम

इस दुनिया में कोई भी व्यक्ति ऐसा नहीं होगा जो कि बिना किसी कठिनाइयों और असफलताओं के सफल हुआ हो|