शोध पत्रिका ‘समागम’

बदलती दुनिया

Images 9

इस बार बाजार को ‘अम्मां’ याद आएगी

Posted on: 10-05-2020 10:57:50, by admin

इस बार बाजार को ‘अम्मां’ याद आएगी
मनोज कुमार
ज्यादतर लोग भूल गए हैं कि 10 मई है। 10 मई मतलब वैश्विक तौर पर मनाया जाने वाला ‘मदर्स डे’। ‘मदर्स डे’ मतलब बाजार का डे। इस बार यह डे, ड्राय डे जैसा

Watch Now
Images 9

लाल सलाम नहीं, यश  बॉस 

Posted on: 01-05-2020 22:41:36, by admin


लाल सलाम नहीं, यश  बॉस 

मनोज कुमार

फादर्स डे और मदर्स डे मनाने वाली साल 2000 के बाद की पीढ़ी को तो पता ही नहीं होगा कि हम लोग 1 मई को मजदूर दिवस भी मनाते हैं। इसमें उनकी गलती कम

Watch Now
Images 9

पुलिस इतनी बुरी भी नहीं है दोस्त

Posted on: 29-04-2020 21:05:42, by admin

मनोज कुमार
वरिष्ठ पत्रकार
महीने-डेढ़ महीने पहले तक आप और हमको लगता था कि पुलिस बहुत बुरी है। पुलिस यानि डर और भय का दूसरानाम। लेकिन इन दिनों में पुलिस की परिभाषा बदल गई है। पुलिस यानि डर और भय

Watch Now
Images 9

जिंदगी की एक ही दवा ‘उम्मीद’

Posted on: 06-04-2020 11:09:04, by admin

जिंदगी की एक ही दवा ‘उम्मीद’
मनोज कुमार
डॉक्टर शिफा एम. मोहम्मद के लिए अपनी निकाह से ज्यादा जरूरी है कोरोना से जूझ रहे मरीजों की जिंदगी बचाना तो बैतूल के लक्ष्मी नारायण मंदिर में असंख्य लोग चु

Watch Now
Images 9

एक धर्म की बिटिया

Posted on: 08-03-2020 08:35:31, by admin

एक धर्म की बिटिया
मनोज कुमार
बिटिया हो जाना ही किसी बेटी का धर्म है. बिटिया का एक ही धर्म होता है बिटिया हो जाना. बिटिया का विभिन्न धर्म नहीं होता, उसकी कोई जात या वर्ग भी नहीं होता, वह एक माय

Watch Now

Today's google trends



Visitor's Detail